Saturday, August 13News

दिल्ली में मनीष सिसोदिया की कार पर हमला, आप नेता ने भाजपा कार्यकर्ताओं पर उनकी सरकारी गाड़ी में तोड़फोड़ का आरोप लगाया

छवि

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली के रोहतास नगर इलाके में मंगलवार को कथित तौर पर उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के सरकारी वाहन में तोड़फोड़ करने और उन्हें काले झंडे दिखाए जाने का मामला सामने आया है। सिसोदिया ने इस हमले के लिए भाजपा नेताओं और उनके कार्यकर्ताओं को जिम्मेदार ठहराते हुए उनके वाहन में तोड़फोड़ का आरोप लगाया है। हालांकि, दिल्ली भाजपा ने सिसोदिया के इन आरोपों पर अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

जानकारी के अनुसार, मंगलवार को रोहतास नगर में बन रहे एक स्कूल भवन का निरीक्षण करने पहुंचे दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का घेराव करते हुए भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा उन्हें काले झंडे दिखाए गए। इस दौरान कथित तौर पर कुछ लोगों द्वारा मनीष सिसोदिया गो बैक के नारे लगाते हुए उनके सरकारी वाहन और स्कूल में तोड़फोड़ भी की गई। वहां मौजूद पुलिस कर्मियों द्वारा किसी तरह सिसोदिया को वहां से निकाला गया।

मनीष सिसोदिया ने कुछ तस्वीरों के साथ ट्वीट कर कहा, ”आज रोहतास नगर में स्कूल बनने का विरोध करते हुए बीजेपी नेताओं व गुंडों ने स्कूल में तोड़फोड़ की. मेरी सरकारी गाड़ी को तोड़ा, स्कूल का गेट तोड़कर अंदर मौजूद महिला शिक्षकों, इंजीनियर्स और मजदूरों के साथ बदतमीजी की. भाजपाइयों को स्कूल बनने, पढ़ने-लिखने से इतनी चिढ़ क्यों है?”

दिल्ली के गृह एवं लोक निर्माण मंत्री सत्येंद्र जैन ने भी घटना के संबंध में ट्वीट किया, ”भाजपा हमें रोकने के लिए चाहे कितने भी हाथ-पैर मार ले, लेकिन हम रुकने वाले नहीं। भाजपा ऐसे चाहे हजार हमले करवा ले, हमें डरा नहीं सकती। हमने दिल्ली के लोगों की सेवा करने की कसम खाई है और इससे हमें कोई रोक नहीं सकता।

गौरतलब है कि इन दिनों दिल्ली के कई इलाकों में स्थित स्कूलों में नए भवनों का निर्माण पूरे जोर-शोर से चल रहा है। इन स्कूलों के निर्माण कार्यों का निरीक्षण करने के लिए मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन के साथ शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारी इन स्कूलों में घूम-घूम कर काम का जायजा ले रहे हैं। सिसोदिया का कहना है कि दिल्ली के हर बच्चे के लिए देश के सबसे अच्छे स्कूल बनाना यही केजरीवाल सरकार का सपना है। इस आर्टिकल को शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.