Saturday, August 13News

Udaipur: टेलर का गला काटा, सोशल मीडीया पर नूपुर शर्मा के सर्मथन में किया था पोस्ट

राजस्थान के उदयपुर में दो लोगों ने मिलकर एक टेलर की निर्मम तरीके से हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि दोनों कपड़े सिलवाने की बहाने दुकान में गुंसे थे। मौका पाते ही दोनों ने धारदार हथियार से टेलर कन्हैयालाल की गला काटकर हत्या कर दी।

हत्या के बाद दोनों हत्यारों ने ऑनलाइन वीडियो भी शेयर किया। जिसमें दोनों ने कहा कि उन्होंने ये कदम इस्लाम का बदला लेने के लिए उठाया है। इसी वीडियो में दोनों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी धमकी दी। बता दें कि राजस्थान पुलिस ने दोनों को राजसमंद से गिरफ्तार कर लिया है। दोनो की पहचान रियाज़ और मोहम्मद गौस के रूप में कई गयी है।

फिलहाल, मिली जानकारी के अनुसार कन्हैयालाल की जो निर्मम हत्या हुई है वो बीजेपी की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा के पैगम्बर मोहम्मद को लेकर दिए गए विवादित बयान से संबंध रखती है। दरअसल, कुछ हफ़्तों पहले कन्हैया लाल ने सोशल मीडिया पर पोस्ट लिखकर नूपुर शर्मा का समर्थन किया था। जिसके बाद उनके पड़ोसी नाजिम ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई थी। कन्हैया लाल को गिरफ्तार किया गया। लेकिन ज़मानत मिलने के बाद उन्हें जान से मारने की धमकी मिलने लगी थी। कन्हैया लाल ने इसको लेकर पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई लेकिन पुलिस ने कोई ठोस कार्यवाही नहीं कि।

credit social media

जिसका अंजाम ये हुआ कि कन्हैया लाल को अपनी जान गवानी पड़ी। इस घटना के बाद से राजस्थान के हालात भी कुछ ठीक नहीं हैं। 24 घण्टे के लिए यहां इंटरनेट की सेवा बंद कर दी गयी है। वहीं एक महीने के लिए पूरे राजस्थान में धारा 144 लगा दी गयी है। वहीं हत्या को अंजाम देने वाले रियाज़ और मोहम्मद गौस से पूछताछ के लिए एनआईए के सीनियर रैंक के अधिकारियों की टीम उदयपुर भेजी गई हैं। घटना की जांच के लिए एसआईटी का गठन भी कर दिया गया है।

मामले पर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट कर कहा, ” उदयपुर में युवक की हत्या के दोनों आरोपियों को राजसमंद से गिरफ्तार किया गया है। इस केस में अनुसंधान केस ऑफिसर स्कीम के तहत किया जाएगा एवं त्वरित अनुसंधान सुनिश्चित कर अपराधियों को न्यायालय कड़ी से कड़ी सजा दिलवाई जाएगी। मैं पुन: सभी से शान्ति बनाए रखने की अपील करता हूं।”

राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर घटना को जघन्य बताया है। राहुल ने लिखा है कि धर्म के नाम पर की जा रही बर्बरता को को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस हैवानियत से आतंक फैलाने वालों को तुरंत सख्त सज़ा मिले। वहीं अरविंद केजरीवाल ने भी घटना की निंदा करते हुए आरोपियों को सख़्त से सख्त सजा देने की बात कही है। तो ममता बनर्जी ने एक रैली में इस घटना को घृणित और जिहाद बताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.