Newjport

हर्ष का विषय है कि जैन दर्शन विभाग,श्री लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय (केंद्रीय) संस्कृत विश्वविद्यालय,नई दिल्ली के शास्त्री,आचार्य एवं पी एच डी के विद्यार्थी देश के विभिन्न सरकारी और गैर सरकारी संस्थानों में सेवाओं हेतु चयनित होकर तथा राष्ट्रीय स्तर की फैलोशिप प्राप्त करके विभाग का गौरव निरंतर बढ़ा रहे हैं । हाल ही में शोध छात्रा श्रीमती लावणी वैराग्य का चयन बिहार लोक सेवा आयोग में वरिष्ठ अध्यापिका के रूप में ,शोध छात्र अनिमेष कुंडु का वरिष्ठ अध्यापक के रूप में तथा शास्त्री उत्तीर्ण छात्रा श्रुति जैन का चयन EMRS Central govt.में अध्यापिका के रूप में चयन हुआ है ।

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग में
संस्कृत विषय में
शोधछात्रा जेबा आफरीन JRF तथा शोध छात्र सुजय विश्वास का चयन NET में हुआ है ।

इसके पूर्व श्री प्रताप का चयन केंद्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय,भोपाल में जैन दर्शन विभाग में असिस्टेंट प्रोफेसर के रूप में तथा अनेक छात्र छात्राओं का चयन CTET,BEd, एवं TGT/PGT में हो चुका है ।
इसके पूर्व जैनदर्शन
विभाग के Mphil छात्र अच्युकान्त जैन तथा शोध छात्र डॉ ऋषभ का चयन जैन विश्वविद्यालय ,बैंगलोर में असिस्टेन्ट प्रोफेसर के रूप में हुआ था ।

जैन दर्शन विभाग के अध्यक्ष प्रो वीरसागर जैन जी ,प्रो अनेकांत कुमार जैन जी एवं प्रो कुलदीप जी के सतत अध्यापन एवं प्रशिक्षण का यह सुफल है ।

ज्ञातव्य है कि इस Central University के जैन दर्शन विभाग में शास्त्री Graduation,आचार्य Post Graduation तथा Phd में प्रवेश NTA द्वारा आयोजित CUET प्रवेश परीक्षा के माध्यम से ही होता है ।जो प्रवेश लेने के इच्छुक हैं उन्हें NTA की वेबसाइट पर अंतिम तिथि से पूर्व ही अवश्य पंजीयन करवा लेना चाहिए ।

विश्वविद्यालय में प्रवेश हेतु समस्त जानकारी के लिए www.slbsrsv.ac.in वेबसाइट देखना चाहिए ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *